Lyrics Meri Zindagi Me Aate

0
1090

Lyrics in English | Meri Zindagi Me Aate To Kuchhh Aur Baat Hoti | Kanyadaan (1968)

Un Ki Zulfen
Un Ke Chehre Se Hata
Sakta Nahin
Dil Ki Betaabi Kisi Soorat Chhupa
Sakta Nahin
Kitni Dilkash Hai Mohabbat Ki Jawaa Majbooriyaan
Saamne Manzil Hai Aur
Paanv Badha
Sakta Nahin
Meri Zindagi Me Aate
To Kuchhh Aur Baat Hoti (2)
Meri Zindagi Me Aate
To Kuchhh Aur Baat Hoti (2)
Ye Naseeb Jagmagaate
To Kuchhh Aur Baat Hoti (2)…………

Songs Started with “Meri”

Kayee Baar Mil Chuki Hain
Ye Hasee Hasee Nigaahen
Kayee Baar Mil Chuki Hain
Ye Hasee Hasee Nigaahen
Wohi Bekarariyaan Hain
Na Mili Khushi Ki Raahen
Mere Dil Se Dil Milaate
To Kuchhh Aur Baat Hoti (2)
Meri Zindagi Me Aate
To Kuchhh Aur Baat Hoti (2)…………

Top 20 Sad Songs of Shashi Kapoor

Mujhe Kya Garaz Kisi Se
Hanse Phool Ya Sitaare
Mujhe Kya Garaz Kisi Se
Hanse Phool Ya Sitaare
Hai Meri Nazar Me Pheeke
Ye Jawaa Jawaa Nazaare
Agar Aap Muskuraate
To Kuchhh Aur Baat Hoti (2)
Meri Zindagi Me Aate
To Kuchhh Aur Baat Hoti (2)…………

Top 100 Sad Songs of Mohammed Rafi

Ye Khushi Rahe Salaamat
Yoon Hi Jashn Ho Suhaana
Ye Khushi Rahe Salaamat
Yoonhi Jashn Ho Suhaana
Jise Sun Rahi Hai Duniya
Mere Dil Ka Hai Taraana
Mere Saath Tum Bhi Gaate
To Kuchhh Aur Baat Hoti (2)
Meri Zindagi Me Aate
To Kuchhh Aur Baat Hoti (2)
Ye Naseeb Jagmagaate
To Kuchhh Aur Baat Hoti (2)…………

Song: Meri Zindagi Me Aate
Film: Kanyadaan (1968)
Singer: Mohammed Rafi
Music Director: Shankar-Jaikishan
Lyricist: Hasrat Jaipuri
Featuring: Shashi Kapoor, Asha Parekh

Meri Zindagi Me Aate-YouTube Video | Kanyadaan (1968)

Lyrics in Hindi | Meri Zindagi Me Aate To Kuchhh Aur Baat Hoti | Kanyadaan (1968)

उन की ज़ुल्फ़ें
उन के चेहरे से हटा
सकता नहीं
दिल की बेताबी किसी सूरत छुपा
सकता नहीं
कितनी दिलकश है मोहब्बत की जवाँ मजबूरियाँ
सामने मंज़िल है और
पाँव बढ़ा
सकता नहीं
मेरी ज़िंदगी में आते
तो कुछ और बात होती (2)
मेरी ज़िंदगी में आते
तो कुछ और बात होती (2)
ये नसीब जगमगाते
तो कुछ और बात होती (2)…………

Best Songs of Shankar-Jaikishan and Hasrat Jaipuri

कई बार मिल चुकी हैं
ये हसीं हसीं निगाहें
कई बार मिल चुकी हैं
ये हसीं हसीं निगाहें
वही बेकरारियाँ हैं
ना मिली ख़ुशी की राहें
मेरे दिल से दिल मिलाते
तो कुछ और बात होती (2)
मेरी ज़िंदगी में आते
तो कुछ और बात होती (2)…………

Best Bollywood Songs of 1968

मुझे क्या गरज़ किसी से
हँसे फूल या सितारे
मुझे क्या गरज़ किसी से
हँसे फूल या सितारे
है मेरी नज़र में फीके
ये जवाँ जवाँ नज़ारे
अगर आप मुस्कुराते
तो कुछ और बात होती (2)
मेरी ज़िंदगी में आते
तो कुछ और बात होती (2)…………

Best Sad Songs of 1960s

ये ख़ुशी रहे सलामत
यूँ ही जश्न हो सुहाना
ये ख़ुशी रहे सलामत
यूँ ही जश्न हो सुहाना
जिसे सुन रही है दुनिया
मेरे दिल का है तराना
मेरे साथ तुम भी गाते
तो कुछ और बात होती (2)
मेरी ज़िंदगी में आते
तो कुछ और बात होती (2)
ये नसीब जगमगाते
तो कुछ और बात होती (2)…………

गीत: मेरी ज़िंदगी में आते
फिल्म: कन्यादान (1968)
गायक: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: शंकर-जयकिशन
गीतकार: हसरत जयपुरी
कलाकार: शशि कपूर, आशा पारेख

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here