Lyrics Ye Deewane Ki Zid Hai

0
1067

Lyrics in English | Ye Deewane Ki Zid Hai | Laila Majnu (1976) | Rishi Kapoor | Mohammed Rafi

Kaza Zalim Sahi
Ye Zulm
Wo Bhi Kar Nahi Sakti
Jahaan Me Kais Zinda Hai
To Laila
Mar Nahi Sakti
Ye Daawa Aaj (3)
Duniya Bhar Se
Manwaane Ki Khatir Aa
Ye Daawa
Aaj Duniya Bhar Se
Manwaane Ki Khatir Aa
Ye Daawa
Aaj Duniya Bhar Se
Manwaane Ki Khatir Aa
Ye Deewane Ki Zid Hai Zid
Ye Deewane Ki Zid
Haan Ye Deewane Ki Zid Hai
Apne Deewane Ki Khatir Aa
Ye Deewane Ki Zid Hai
Apne Deewane Ki Khatir Aa………..

Antakshari Songs from “K”

Tere Dar Se Main Khali
Laut Jaoon
Kya Qayamat Hai
Tere Dar Se
Tere Dar Se Main Khali
Laut Jaaon
Kya Qayamat Hai
Tu Meri Rooh Ka
Kaaba
Tu Meri Rooh Ka
Kaaba
Meri Jaan-E-Ibadat Hai (2)
Jabeene Shauk (2)
Jabeene Shauk Ke Sajdo Ko
Apnane Ki Khatir Aa
Jabeene Shauk Ke
Sajdo Ko
Apnane Ki Khatir Aa
Jabeene Shauk K
Sajdo Ko
Apnane Ki Khatir Aa
Ye Deewane Ki Zid Hai
Apne Deewane Ki Khatir Aa………..

Songs from Laila Majnu (1976)

Meri Deewangi
Meri Deewangi Ki
Meri Vehshat Ki Kasam Tujh Ko
Meri
Deewangi
Meri Deewangi Ki
Meri Vehshat Ki Kasam Tujh Ko
Gurur-E-Ishq Ki
Naaz-E-Mohabbat Ki Kasam Tujh Ko
Gurur-E-Ishq Ki
Naaz-E-Mohabbat Ki Kasam Tujh Ko
Zamaane Ko (2)
Zamaane Ko Wafa Ki
Shaan Dikhlaane Ki Khaatir Aa
Zamaane Ko Wafa Ki
Shaan Dikhlaane Ki Khaatir Aa
Ye Deewane Ki Zid Hai Zid
Ye Deewane Ki Zid Hai
Zid Hai Zid Hai Zid
Ye Deewane Ki Zid Hai
Apne Deewane Ki Khatir Aa
Ye Deewane Ki Zid Hai
Apne Deewane Ki Khatir Aa………..

Best of Madan Mohan and Mohammed Rafi

Main Tere Husn Ka Sadka
Utaroon
Saamne Aa Ja
Main Tere Husn Ka
Sadka Utaroon
Saamne Aa Ja
Tu Mere Samne Aa Ja (2)
Girebaan Dajjiyaan Kar Ker Ke Vaaroon
Samne Aa Ja
Girebaan Dajjiyaan Kar Ker Ke Vaaroon
Samne Aa Ja
Shikasta Par (2)
Shikasta Par
Pareshaan Haal
Karwaane Ki Khatir Aa
Shikasta Par
Pareshaan Haal
Karwaane Ki Khatir Aa
Ye Deewane Ki Zid Hai
Apne Deewane Ki Khatir Aa
Ye Deewane Ki Zid Hai
Apne Deewane Ki Khatir Aa
Jabeene Shauk Ke Sajdo Ko
Apnane Ki Khatir Aa
Zamaane Ko Wafa Ki Shaan
Dikhlaane Ki Khatir Aa
Ye Deewane Ki Zid Hai
Apne Deewane Ki Khatir Aa
Tu Bas Ik Baar Aa
Apne Deewane Ki Khatir Aa
Tu Bas Ik Baar Aa
Apne Deewane Ki Khatir Aa
Tu Bas Ik Baar………..

Song: Apne Deewane Ki Khatir Aa
Film: Lalila Majnu (1976)
Singer: Mohammed Rafi
Music: Madan Mohan, Jaidev
Lyricist: Sahir Ludhiyanvi
Featuring: Ranjeeta Kaur, Rishi Kapoor

Lyrics in Hindi | Ye Deewane Ki Zid Hai | Laila Majnu (1976) | Rishi Kapoor | Mohammed Rafi

कज़ा ज़ालिम सही
ये ज़ुल्म
वो भी कर नहीं सकती
जहाँ में कैस ज़िंदा है
तो लैला
मर नहीं सकती
ये दावा आज (3)
दुनिया भर से
मनवाने की खातिर आ
ये दावा आज
दुनिया भर से
मनवाने की खातिर आ
ये दावा आज
दुनिया भर से
मनवाने की खातिर आ
ये दीवाने की ज़िद है ज़िद
ये दीवाने की ज़िद
हाँ ये दीवाने की ज़िद है
अपने दीवाने की खातिर आ
ये दीवाने की ज़िद है
अपने दीवाने की खातिर आ…………..

Best of Rishi Kapoor and Mohammed Rafi

तेरे दर से मैं खाली
लौट जाऊँ
क्या क़यामत है
तेरे दर से मैं खाली
लौट जाऊँ
क्या क़यामत है
तू मेरी रुह का
काबा
तू मेरी रुह का
काबा
मेरी जान-ए-इबादत है (2)
ज़बीने शौक (2)
ज़बीने शौक के
सजदों को
अपनाने की खातिर आ
ज़बीने शौक के
सजदों को
अपनाने की खातिर आ
ज़बीने शौक के
सजदों को
अपनाने की खातिर आ
ये दीवाने की ज़िद है
अपने दीवाने की खातिर आ ……….

Bollywood Songs of 1976

मेरी दीवानगी
मेरी दीवानगी की
मेरी वहशत की कसम तुझ को
मेरी
दीवानगी
मेरी दीवानगी की
मेरी वहशत की कसम तुझ को
गुरुर-ए-इश्क़ की
नाज़-ए-मोहब्बत की कसम तुझ को
गुरुर-ए-इश्क़ की
नाज़-ए-मोहब्बत की कसम तुझ को
ज़माने को (2)
ज़माने को वफ़ा की
शान दिखलाने की खातिर आ
ज़माने को वफ़ा की
शान दिखलाने की खातिर आ
ये दीवाने की ज़िद है ज़िद
ये दीवाने की ज़िद
ज़िद है ज़िद है ज़िद
ये दीवाने की ज़िद है
अपने दीवाने की खातिर आ
ये दीवाने की ज़िद है
अपने दीवाने की खातिर आ…………..

Solo Songs of Mohammed Rafi

मैं तेरे हुस्न का सदक़ा
उतारूँ
सामने आ जा
मैं तेरे हुस्न का
सदक़ा उतारूँ
सामने आ जा
तू मेरे सामने आ जा (2)
गिरेबाँ दाज्जीयां कर कर के वारूँ
सामने आ जा
गिरेबाँ दाज्जीयां कर कर के वारूँ
सामने आ जा
शिकस्ता पर (2)
शिकस्ता पर
परेशाँ हाल
करवाने की खातिर आ
शिकस्ता पर
परेशाँ हाल
करवाने की खातिर आ
ये दीवाने की ज़िद है
अपने दीवाने की खातिर आ
ये दीवाने की ज़िद है
अपने दीवाने की खातिर आ
ज़बीने शौक के सजदों को
अपनाने की खातिर आ
ज़माने को वफ़ा की शान
दिखलाने की खातिर आ
ये दीवाने की ज़िद है
अपने दीवाने की खातिर आ
तू बस इक बार आ
अपने दीवाने की खातिर आ
तू बस इक बार आ
अपने दीवाने की खातिर आ
तू बस इक बार………..

गीत: ये दीवाने की ज़िद है
फिल्म: लैला मजनूँ (1976)
गायक: मोहम्मद रफ़ी
संगीतकार: मदन मोहन, जयदेव
गीतकार: साहिर लुधियानवी
कलाकार: रंजीता कौर, ऋषि कपूर

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here