Lyrics Tu Husn Hai Main Ishq Hoon

0
1040

Lyrics in English | Tu Husn Hai Main Ishq Hoon | Hamraaz (1967)

Tu Husn Hai Main Ishq Hoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon
Tu Husn Hai Main Ishq Hoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon

Main Is Se Aage Kya Kahoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon
Tu Husn Hai Main Ishq Hoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon………

Songs Starting from “T”

O Soniye
O Mere Mahivaal
Aa Ja Oye Aa Ja
Paar Nadi Ke Mere Yaar Ka Dera
Yaar Ka Dera Oye Yaar Ka Dera
Tere Hawaale Rabba Dilbar Mera
Dilbar Mera Oye Dilbar Mera

Raat Bala Ki Badhta Jaaye
Lehron Ka Ghera
Kasam Khuda Ki Aaj Hai Mushkil
Milna Mera
Khair Karin Rabba Rabba
Khair Karin Rabba
Khair Karin Rabba Rabba
Khair Karin Rabba

Khair Karin Rabba Rabba
Khair Karin Rabba

O Saath Jiyenge Saath Marenge
Yahi Hai Fasaana Oye

Tu Husn Hai Mai Ishq Hoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon

Main Is Se Aage Kya Kahoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon
Tu Husn Hai Mai Ishq Hoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon………

Best Songs of 1967

Kahaan Salim Ka Rutba
Kahaan Anarkali
Kahaan Salim Ka Rutba
Kahaan Anarkali
Ye Aisi Shaakh-E-Tamanna Hai
Jo Kabhi Na Phali
Haye Ye Aisi Shaakh-E-Tamanna Hai
Jo Kabhi Na Phali
Na Bujh Sakegi
Bujhaane Se Ahle Duniya Ke
Na Bujh Sakegi
Bujhaane Se Ahle Duniya Ke
Wo Shamma Jo Teri Aankhon Me
Mere Dil Me Jali

Haye Wo Shamma Jo Teri Aankhon Me
Mere Dil Me Jali

Huzoor Ek Na Ek
Din Ye Baat Aayegi
Huzoor Ek Na Ek
Din Ye Baat Aayegi
Ke Takht-O-Taaz Bhale
Hain Ke Ek Kaneej Bhali
Ke Takht-O-Taaz Bhale
Hain Ke Ek Kaneej Bhali
Main Takht-O-Taaz Ko
Thukra Ke Tujh Ko Le Loonga
Main Takht-O-Taaz Ko
Thukra Ke Tujh Ko Le Loonga
Ke Takht-O-Taaz Se
Teri Gali Ki Khaak Bhali
Haye Ke Takht-O-Taaz Se
Teri Gali Ki Khaak Bhali

O Saath Jiyenge Saath Marenge
Yahi Hai Fasaana Oye

Tu Husn Hai Mai Ishq Hoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon

Main Is Se Aage Kya Kahoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon
Tu Husn Hai Mai Ishq Hoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon………

Romantic Songs of Mahendra Kapoor

Haseele Itni Oonchi Aur Pehra
Itna Sangeen Hai
Jiyaale Romiyo
Tu Kis Terha Pahuncha Bageeche Me
Ye Meri Juliyat Ke
Shokh Chehre Ki Shuayen Hai
Ke Aadhi Raat Ko
Sooraj Nikal Aaya Dareeche Me

Mera Koyi Azi Jiszah
Tujhe Pa Le To Phir Kya Ho
Ye Sab Baaten Wo Kyon Soche
Jise Teri Tamanna Ho

Khuda Ke Waaste Ae Romiyo
Is Zid Se Baaz Aa Ja
Khizaan Aane Se Pehle
Mere Paas Ae Dil Nawaaz Aa Ja

Tujhe Zid Hai To Pyare
Dekh Main Dewaana Waar Aayee
Tujhe Zid Hai To Pyare
Dekh Main Dewaana Waar Aayee
Tu Jab Baahon Me Aayee
Dil Ki Duniya Me Bahaar Aayee
Tu Jab Baahon Me Aayee

O Saath Jiyenge Saath Marenge
Yahi Hai Fasaana Oye

Tu Husn Hai Mai Ishq Hoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon

Main Is Se Aage Kya Kahoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon
Tu Husn Hai Mai Ishq Hoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon
Tu Husn Hai Mai Ishq Hoon
Tu Mujh Me Hai Main Tujh Me Hoon………

Song: Tu Husn Hai Main Ishq Hoon
Film: Hamraaz (1967)
Singer: Asha Bhosle, Mahendra Kapoor
Music Director: Ravi
Lyricist: Sahir Ludhiyanvi
Featuring: Sunil Dutt, Mumtaz

Lyrics Tu Husn Hai Main Ishq Hoon from Hamraaz (1967)

Lyrics in Hindi | Tu Husn Hai Main Ishq Hoon | Hamraaz (1967)

तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ
तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ

मैं इस से आगे क्या कहूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ
तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ ………

Best Romantic Songs of Sunil Dutt

ओ सोनिये
ओ मेरे महिवाल
आ जा ओये आ जा
पार नदी के मेरे यार का डेरा
यार का डेरा ओये यार का डेरा
तेरे हवाले रब्बा दिलबर मेरा
दिलबर मेरा ओये दिलबर मेरा

रात बला की बढ़ता जाए
लहरों का घेरा
कसम खुदा की आज है मुश्किल
मिलना मेरा
खैर करीं रब्बा रब्बा
खैर करीं रब्बा
खैर करीं रब्बा रब्बा
खैर करीं रब्बा

खैर करीं रब्बा रब्बा
खैर करीं रब्बा

ओ साथ जियेंगे साथ मरेंगे
यही है फ़साना ओये

तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ

मैं इस से आगे क्या कहूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ
तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ ………

Best Songs Composed by Ravi

कहाँ सलीम का रुतबा
कहाँ अनारकली
कहाँ सलीम का रुतबा
कहाँ अनारकली
ये ऐसी शाख-ए-तमन्ना है
जो कभी ना फली
हाय ये ऐसी शाख-ए-तमन्ना है
जो कभी ना फली
ना बुझ सकेगी
बुझाने से अहले दुनिया के
ना बुझ सकेगी
बुझाने से अहले दुनिया के
वो शम्मा जो तेरी आँखों में
मेरे दिल में जली
हाय वो शम्मा जो तेरी आँखों में
मेरे दिल में जली

हुज़ूर एक ना एक
दिन ये बात आएगी
हुज़ूर एक ना एक
दिन ये बात आएगी
के तख़्त-ओ-ताज़ भले
हैं के एक कनीज भली
के तख़्त-ओ-ताज़ भले
हैं के एक कनीज भली
मैं तख़्त-ओ-ताज़ को
ठुकरा के तुझ को ले लूँगा
मैं तख़्त-ओ-ताज़ को
ठुकरा के तुझ को ले लूँगा
के तख़्त-ओ-ताज़ से
तेरी गली की ख़ाक भली
हाय के तख़्त-ओ-ताज़ से
तेरी गली की ख़ाक भली

ओ साथ जियेंगे साथ मरेंगे
यही है फ़साना ओये

तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ

मैं इस से आगे क्या कहूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ
तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ ………

Best Songs of Sahir Ludhiyanvi

हसीले इतनी ऊंची और पहरा
इतना सगीं है
जियाले रोमियो
तू किस तरह पहुंचा बगीचे में
ये मेरी जूलियट के
शोख चेहरे की शुआयें है
के आधी रात को
सूरज निकल आया दरीचे में

मेरा कोई अजी जिसजाह
तुझे पा ले तो फिर क्या हो
ये सब बातें वो क्यों सोचे
जिसे तेरी तमन्ना हो

खुदा के वास्ते ऐ रोमियो
इस ज़िद से बाज़ आ जा
ख़िज़ाँ आने से पहले
मेरे पास ऐ दिल नवाज़ आ जा

तुझे ज़िद है तो प्यारे
देख मैं दीवाना वार आयी
तुझे ज़िद है तो प्यारे
देख मैं दीवाना वार आयी
तू जब बाँहों में आयी
दिल की दुनिया में बहार आयी
तू जब बाँहों में आयी

ओ साथ जियेंगे साथ मरेंगे
यही है फ़साना ओये

तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ

मैं इस से आगे क्या कहूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ
तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ
तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
तू मुझ में है मैं तुझ में हूँ ………

गीत: तू हुस्न है मैं इश्क़ हूँ
फिल्म: हमराज़ (1967)
गायक: आशा भोसले, महेंद्र कपूर
संगीतकार: रवि
गीतकार: साहिर लुधियानवी
कलाकार: सुनील दत्त, मुमताज़

Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here