Lyrics Suhana Safar Aur Ye

0
2445

Lyrics in English | Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen | Madhmati-1958 | Dilip Kumar

Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen (2)
Hamen Dar Hai Ham Kho Na Jaayen Kahin
Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen……….

Ye Kaun Hansta Hai Phoolon Me Chhup Kar
Bahaar Bechain Hai Kis Ki Dhun Par
Ye Kaun Hansta Hai Phoolon Me Chhup Kar
Bahaar Bechain Hai Kis Ki Dhun Par
Kahin Gun Gun
Kahi Run Jhun
Ke Jaise Naache Zameen
Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen
Hamen Dar Hai Ham Kho Na Jaayen Kahin
Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen……….

Songs Starting from “S”

Ye Gori Nadiyo Ka Chalna Uchhal Kar
Ke Jaise Alhad Chale Pee Se Mil Kar
Ye Gori Nadiyo Ka Chalna Uchhal Kar
Ke Jaise Alhad Chale Pee Se Mil Kar
Pyaare Pyaare
Ye Nazaare
Nikhar Hai Har Kahin
Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen (2)
Hamen Dar Hai Ham Kho Na Jaayen Kahin
Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen……….

Wo Aasmaan Jhuk Raha Hai Zameen Par (2)
Ye Milan Ham Ne Dekha Yahin Par
Wo Aasmaan Jhuk Raha Hai Zameen Par
Ye Milan Ham Ne Dekha Yahin Par
Meri Duniya
Mere Sapne
Milenge Shayad Yahin
Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen (2)
Hamen Dar Hai Ham Kho Na Jaayen Kahin
Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen (2)……….

Song: Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen
Film: Madhumati (1958)
Singer: Mukesh
Music Director: Salil Chowdhury
Lyricist: Shailendra
Featuring: Dilip Kumar

Lyrics in Hindi | Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen | Madhmati-1958 | Mukesh

सुहाना सफर और ये मौसम हसीं (2)
हमें डर है हम खो ना जाएँ कहीं
सुहाना सफर और ये मौसम हसीं……….

ये कौन हँसता है फूलों में छुप कर
बहार बेचैन है किस की धुन पर
ये कौन हँसता है फूलों में छुप कर
बहार बेचैन है किस की धुन पर
कहीं गुन गुन
कहीं रुन झुन
के जैसे नाचे ज़मीं
सुहाना सफर और ये मौसम हसीं
हमें डर है हम खो ना जाएँ कहीं
सुहाना सफर और ये मौसम हसीं……….

Top 100 Black & White Songs

ये गोरी नदियों का चलना उछल कर
के जैसे अल्हड चले पी से मिल कर
ये गोरी नदियों का चलना उछल कर
के जैसे अल्हड चले पी से मिल कर
प्यारे प्यारे
ये नज़ारे
निखार है हर कहीं
सुहाना सफर और ये मौसम हसीं (2)
हमें डर है हम खो ना जाएँ कहीं
सुहाना सफर और ये मौसम हसीं……….

वो आसमाँ झुक रहा है ज़मीं पर (2)
ये मिलन हम ने देखा यहीं पर
वो आसमाँ झुक रहा है ज़मीं पर
ये मिलन हम ने देखा यहीं पर
मेरी दुनिया
मेरे सपने
मिलेंगे शायद यहीं
सुहाना सफर और ये मौसम हसीं (2)
हमें डर है हम खो ना जाएँ कहीं
सुहाना सफर और ये मौसम हसीं……….

गीत: सुहाना सफर और ये मौसम हसीं
फिल्म: मधुमती (1958)
गायक: मुकेश
संगीतकार: सलिल चौधुरी
गीतकार: शैलेन्द्र
कलाकार: दिलीप कुमार

Suhana Safar Aur Ye Mausam Haseen-YouTube Video | Madhmati-1958

Lyricis Suhana Safar Aur Ye Mausam from Madhumati (1958)
Spread the love

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here